विरोध प्रदर्शन के दौरान अरेस्ट हुए राहुल गांधी, कहा - देश में पुलिस राज मोदी जी हैं ‌ राजा Rahul Gandhi arrested during protest

विरोध प्रदर्शन के दौरान अरेस्ट हुए राहुल गांधी, कहा - देश में पुलिस राज मोदी जी हैं ‌ राजा Rahul Gandhi arrested during protest

पुलिस के साथ लगभग 30 मिनट तक चले गतिरोध के बाद कांग्रेस सांसद को हिरासत में लेकर उसी बस में बिठा दिया गया, जिसमें अन्य सांसदों को पहले ही हिरासत में लिया गया था।


कांग्रेस के नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को आज उस समय हिरासत में ले लिया गया जब वह एक विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे थे और सड़क पर बैठ गए थे वहीं आज उनकी मां सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) से प्रवर्तन निदेशालय (ED) पूछताछ कर रहा है. कीमतों में वृद्धि से लेकर, जीएसटी और केंद्रीय एजेंसियों के दुरुपयोग समेत कई मुद्दों को लेकर वह प्रदर्शन कर रहे थे और कई पुलिसकर्मियों से घिरे थे.लगभग 30 मिनट तक चले गतिरोध के बाद कांग्रेस सांसद को हिरासत में लेकर उसी बस में बिठा दिया गया, जिसमें अन्य सांसदों को पहले ही हिरासत में लिया गया था. राहुल गांधी ने हिरासत से पहले कहा कि भारत में पुलिस का राज है, (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) मोदी एक राजा है।

वहीं दूसरी तरफ नेशनल हेराल्ड मामले में उनकी मां और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को दूसरे दौर की पूछताछ के लिए प्रवर्तन निदेशालय बुलाया गया था. सोनिया गांधी के साथ उनकी बेटी प्रियंका गांधी वाड्रा भी जांच एजेंसी के कार्यालय गईं.संसद में विरोध प्रदर्शन में शामिल होने से पहले राहुल गांधी भी वहां गए थे।

कांग्रेस सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा, हम संसद में महंगाई, बेरोजगारी, अग्निपथ, सरकारी एजेंसियों के दुरुपयोग पर चर्चा की मांग कर रहे हैं लेकिन सरकार इसके लिए तैयार नहीं. राजघाट पर शांतिपूर्ण विरोध की अनुमति मांगी लेकिन अनुमति नहीं दी. राष्ट्रपति जी को ज्ञापन देने की भी अनुमति नहीं मिली और पुलिस हिरासत में लिया गया।

उधर, पूरे मॉनसून सत्र के लिए पार्टी के चार सांसदों को निलंबित किए जाने के एक दिन बाद कांग्रेस सांसद संसद में विपक्ष को "चुप" करने का विरोध कर रहे थे. राष्ट्रपति भवन की ओर मार्च करने की योजना बनाने वाले सांसदों को विजय चौक चौराहे पर रोक दिया गया।

राज्यसभा में कांग्रेस के नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि हम पुलिस के नियमों के मुताबिक ही विरोध कर रहे हैं. यह सब पीएम मोदी और अमित शाह द्वारा विपक्ष को पूरी तरह से नष्ट करने और हमारी आवाज दबाने की साजिश है.हम डरेंगे नहीं, हमारी लड़ाई जारी रहेगी।